Skip to main content

संकट में उद्धव सरकार :गुजरात से 30 विधायक एयरलिफ्ट कर दिल्ली लाए जा सकते हैं, उद्धव ने शिंदे से मिलने 2 नेता भेजे

 


महाराष्ट्र की उद्धव सरकार खतरे में है। उनके दिग्गज मंत्री एकनाथ शिंदे अपने यानी, शिवसेना के 15, एक एनसीपी और 14 निर्दलीय विधायकों के साथ गुजरात के सूरत जा बसे। इस टोली में शिंदे के अलावा 3 मंत्री और हैं। यानी कुल 30 विधायक।


सूत्रों का दावा है कि एकनाथ शिंदे ने राकांपा और कांग्रेस से गठबंधन तोड़ भाजपा के साथ गठबंधन की शर्त रखी है। यह भी कहा जा रहा है कि एकनाथ शिंदे खुद मुख्यमंत्री पद पर बैठना चाहते हैं। शिंदे ने 3 विधायकों संजय राठोड, संजय बांगर और दादा भुसे कुल को मातोश्री भी भेजा है। इस मुलाकात में क्या हुआ, ये अभी सामने नहीं आया है। सूत्रों के मुताबिक, उद्धव ने भी एकनाथ शिंदे से बातचीत के लिए शिवसेना नेता मिलिंद नार्वेकर को भेजा है। उनके साथ पूर्व विधायक रवि फाटक होटल कैंपस में मौजूद हैं।


इधर, सूरत में मौजूद विधायकों को लेकर दो संभावनाएं जताई जा रही हैं। पहली- इन्हें एयरलिफ्ट करके दिल्ली लाया जा सकता है और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृह मंत्री अमित शाह के पास ले जाया जा सकता है। दूसरी- इन्हें अहमदाबाद के किसी रिसॉर्ट में ले जाया जा सकता है।


शिंदे का पहला बयान- पक्के शिवसैनिक हैं, धोखा नहीं देंगे

बगावती कदम के बाद शिवसेना ने शिंदे को विधायक दल के नेता पद से हटा दिया है। पार्टी के इस एक्शन के बाद शिंदे ने बयान दिया, जो उनके बागी तेवरों के एकदम उलट था। उन्होंने ट्वीट किया- हम बालासाहेब के सच्चे शिवसैनिक हैं। बालेसाहेब ने हमें हिंदुत्व सिखाया है। हम सत्ता के लिए कभी भी धोखा नहीं देंगे।


सबसे जरूरी 3 अपडेट्स...


1. शिवसेना ने शिंदे को विधायक दल के नेता पद से हटाया, अजय चौधरी को कमान सौंपी।


2. शिवसेना थोड़ी देर में सेनाभवन के सामने शक्ति प्रदर्शन करेगी। सभी विधायकों को बुलाया।


3. भाजपा ने कहा कि एकनाथ शिंदे ने सरकार को लेकर कोई प्रपोजल नहीं भेजा है और न ही हमने ऐसा कोई प्रस्ताव उन्हें भेजा है।

Comments

Popular posts from this blog

राजस्थान कर्ज माफी लिस्ट 2022: ऑनलाइन (Kisan Karj Mafi List) जिलेवार सूची

  किसानों को कई बार फसल के लिए ऋण लेने की आवश्यकता पड़ जाती है। जिसके कारण उनको आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ता है। इस समस्या को दूर करने के लिए सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाओं का संचालन किया जाता है। राजस्थान सरकार द्वारा भी किसानों का ऋण माफ करने के लिए एक योजना का संचालन किया जाता है। जिसका नाम राजस्थान कर्ज माफी योजना है। इस योजना के माध्यम छोटे एवं सीमांत किसानों का ₹200000 तक का ऋण माफ कर दिया जाता है। वह सभी किसान जिन्होंने अपना ऋण माफ करने के लिए ऑनलाइन आवेदन किया था उनका नाम आधिकारिक वेबसाइट पर अपडेट कर दिया गया है। इस लेख के माध्यम से आपको Rajasthan karj mafi Yojana list में अपना नाम देखने की प्रक्रिया से अवगत कराया जाएगा। इसके अलावा आपको राजस्थान कर्ज माफी जिलेवार सूची से संबंधित अन्य जानकारी भी प्रदान की जाएगी। Rajasthan govt. Karj Mafi Yojana List 2022 राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी कर्ज माफ़ी लिस्ट में अपना नाम देखना चाहते है तो वह घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आसानी से देख सकते है इसके लिए किसानो को कही जाने की आवश्यकता नह

BPL Ration Card 2022 राशन कार्ड कैसे बनाए BPL राशन कार्ड के नए नियम व पात्रता 2022

  राशन कार्ड कैसे बनाए BPL Ration Card के लिए आवेदन पत्र आवेदन के साथ लगाए जाने वाले दस्तावेज BPL लाभार्थी पात्रता आदि राशन कार्ड कई तरह के होते है जैसे – APL राशन कार्ड BPL, स्टेट BPL, अन्त्योदय राशन कार्ड आदि और इन अलग अलग राशन कार्ड से अलग अलग लाभ मिलता है जैसा की आपको पता होगा APL राशन कार्ड एक सामान्य राशन कार्ड में आता है जिसमे लाभार्थी को गेहू खाद्य सामग्री मिलती है bpl राशन से कई योजनाओ के लाभ में प्राथमिकता दी जाती है व आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के bpl कार्ड बनाए जाते है bpl कार्ड बनाने के लिए कई नियम लागु होते है इन नियमो व पात्रताओ को पूरा करने वाले bpl कार्ड के लिए आवेदन कर सकते है यहा जाने bpl कार्ड नियम 2022 व आवेदन फॉर्म, पात्रता व दस्तावेज BPL Ration Card 2022 BPL card के नए नियम 2022 Eligibiliti Ration card-2022 राशन नियमो में हाल में बदलाव किए गए है ये बदलाव BPL राशन कार्ड आवेदन को लेकर किए गए है जहा बीपीएल राशन कार्ड बनाने के लिए नियम सामिल था घर में दो पहिया वाहन है वे BPL राशन कार्ड के लिए पात्र नहीं थे लेकिन अब सरकार ने हाल ही में इन नियमो को बदल दिया है ज

Shramik Card ka Paisa Kaise Check Kare – श्रमिक कार्ड ₹1000 की किस्त कैसे चेक करें

Shramik card ki kist कैसे चेक करें – सरकार ने देश के पंजीकृत श्रमिकों के खातों में श्रमिक कार्ड की पहली किस्त का पैसा भेज दिया है लेकिन अभी भी बहुत सारे श्रमिकों को श्रमिक कार्ड की पहली किस्त का पैसा नहीं मिला है आइए जानते हैं Shramik Card ka Paisa Kaise Check Kare मोबाइल से। Shramik Card ka Paisa Kaise Check Kare उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा प्रदेश के असंगठित क्षेत्र में कार्यरत श्रमिकों को ₹500 प्रति माह की दर से 4 माह तक भरण-पोषण भत्ता योजना का लाभ प्रदान कर रही है जिसके अंतर्गत उत्तर प्रदेश के श्रमिकों को Shramik Card ki pahli kist यानी कि ( shram card 1st installment ) का पैसा श्रमिकों को बैंक खातों में दे दिया गया है। Shramik Card ka Paisa Kaise Check Kare श्रमिक कार्ड भरण पोषण योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए श्रमिक को श्रमिक कार्ड रजिस्ट्रेशन करना आवश्यक है यह रजिस्ट्रेशन आप अपने मोबाइल से भी कर सकते हैं इसके लिए आप के आधार कार्ड में आपका मोबाइल नंबर लिंक होना आवश्यक है। प्रदेश के जिन श्रमिकों को श्रमिक कार्ड की पहली किस्त प्राप्त