Skip to main content

Posts

तुर्किये-सीरिया में 12 घंटे में भूकंप के 3 बड़े झटके:2300 से ज्यादा मौतें, सैकड़ों मलबे में दबे; रेस्क्यू टीम-राहत सामग्री भेजेगा भारत

  मिडिल ईस्ट के चार देश तुर्किये (पुराना नाम तुर्की), सीरिया, लेबनान और इजराइल सोमवार सुबह भूकंप से हिल गए। यहां 12 घंटे में बड़े भूकंप आए। सबसे ज्यादा तबाही एपिसेंटर तुर्किये और उसके नजदीक सीरिया के इलाकों में देखी जा रही है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक- तुर्किये और सीरिया में अब तक 2300 लोगों की मौत हो चुकी है। लेबनान और इजराइल में भी झटके महसूस किए गए, लेकिन यहां नुकसान की खबर नहीं है। तुर्किये में अब तक 1498 लोगों की जान जा चुकी है। 7 हजार लोगों के घायल होने की खबर है। सीरिया में 805 लोग मारे गए और 2 हजार से ज्यादा जख्मी हैं। टर्किश मीडिया के मुताबिक- 3 बड़े झटके आए। पहला तुर्किये के वक्त के मुताबिक, सुबह करीब चार बजे (7.8) और दूसरा करीब 10 बजे (7.6) और तीसरा दोपहर 3 बजे (6.0)। इसके अलावा 78 आफ्टर शॉक्स दर्ज किए गए। इनकी तीव्रता 4 से 5 रही। भूकंप का एपिसेंटर तुर्किये का गाजियांटेप शहर था भूकंप का एपिसेंटर तुर्किये का गाजियांटेप शहर था। यह सीरिया बॉर्डर से 90 किमी दूर है। इसलिए इसके आसपास के इलाकों में ज्यादा तबाही हुई। इसका असर भी दिख रहा है। दमिश्क​, ​​​​​​अलेप्पो, हमा, ल

यदि अधिक बारिश के चलते फसल खराब हुई है तो मुआवजे के लिए किसान यहाँ दें सूचना

  इस साल कई राज्यों में बारिश ने भारी कहर मचाया है. किसानों के हजारों एकड़ की फसल बर्बाद हो गई है. ऐसे में कई किसानों के सामने जीवनयापन का संकट आ गया है. हालांकि, अगर आपने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए आवेदन किया है तो आप भारी नुकसान से बच सकते हैं. PM Fasal Bima Yojana: देश के कई हिस्सों में इन दिनों जबर्दस्त बारिश हो रही है. असम, महाराष्ट्र जैसे राज्यों में बाढ़ की वजह से फसलों को काफी नुकसान हुआ है. मध्य प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक और गुजरात में भी भारी बारिश के चलते हजारों एकड़ की फसलें बर्बाद हो गई हैं. ऐसे में इस वक्त जिन किसानों ने प्रधानमंत्री बीमा योजना ले रखा है, वो भारी नुकसान से बच जाएंगे. इतने घंटे के अंदर फसल नुकसान की सूचना अगर आपकी फसल को बारिश या प्राकृतिक आपदा से भारी नुकसान पहुंचा है तो 72 घंटे के अंदर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत बीमा कंपनी को इसकी सूचना दें. बीमा कंपनी किसी अधिकृत व्यक्ति को खेतों का मुआयना करने के लिए भेजेगी. वह व्यक्ति फसल कितनी खराब हो चुकी है, उसका आंकलन करेगा. फिर आगे की प्रकिया पूरी कर किसानों के खाते में मुआवजे की राशि भेज दी ज

भारत-न्यूजीलैंड तीसरा टी-20 आज:जीते तो कीवी टीम से लगातार चौथी सीरीज जीतेंगे

भारत-न्यूजीलैंड टी-20 सीरीज का तीसरा मुकाबला बुधवार को शाम 7 बजे अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेला जाएगा। यह मैच दोनों ही टीमों के लिए अहम है। अभी सीरीज एक-एक की बराबरी पर है। जो टीम जीतेगी, उसका सीरीज पर कब्जा होगा। नरेंद्र मोदी स्टेडियम में दोनों का पहला मुकाबला नरेंद्र मोदी स्टेडियम में दोनों टीमें पहली बार खेल रही हैं। भारत ने यहां 6 मुकाबले खेले हैं। इनमें से 4 जीते, जबकि 2 मैच हारे। उधर, भारत और न्यूजीलैंड के बीच अब तक 24 टी-20 मुकाबले खेले गए हैं। इनमें 11 मैच टीम इंडिया ने तो 10 न्यूजीलैंड ने जीते हैं। 3 मैच टाई रहे हैं। वेदर कंडीशन एंड पिच रिपोर्ट... बुधवार को अहमदाबाद में बारिश के आसार नहीं हैं। तापमान 13 से 27 डिग्री सेल्सियस रह सकता है। अहमदाबाद में हाई स्कोरिंग पिच पर बड़े टारगेट की उम्मीद है। यहां पिछले 5 में से 3 मुकाबलों की दोनों पारियों में 160+ रन बने हैं। अब चलते चलते नजर डालते हैं, उन रिकॉर्ड पर जो आज बन सकते हैं 2012 के बाद भारत में पहली सीरीज जीतेगा न्यूजीलैंड यदि न्यूजीलैंड इस मुकाबले को जीत लेता है। तो कीवी टीम 2012 के बाद भारत में पहली सी

ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनवाएं || ड्राइविंग लाइसेंस के लिए कैसे आवेदन करें 2023||

  ड्राइविंग लाइसेंस बनाने के लिए अब सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय द्वारा ऑनलाइन वेबसाइट शुरू कर दी गयी है। जैसे कि आप जानते है की अब सारी सुविधाएँ डिजिटल माध्यम से पूरी हो रही है। अब कोई भी सरकारी दस्तावेज आप घर बैठे ऑनलाइन बना सकते हैं। अगर आप भी यही सोच रहें हैं कि ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनवाएं तो दोस्तों अब आप भी अपना ड्राइविंग लाइसेंस ऑनलाइन बना सकते है। डीएल (DL) बनाने के लिए अब आपको कहीं भी जाने की जरूरत नहीं है आप घर बैठे ही आवेदन कर सकते हैं ये एक प्रकार का सरकारी दस्तावेज है जो दर्शाता है कि आप गाडी चलाने के योग्य है चाहे वो टू व्हीलर हो या फोर व्हीलर हो। आज हम अपने लेख के माध्यम से बताने वाले है कि आप कैसे ऑनलाइन सुविधा का लाभ लेकर अपना Driving License बना सकते हैं। ड्राइविंग लाइसेंस से जुडी अन्य जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे लेख से जुड़े रहिये। जो उम्मीदवार अपना Driving License बनाना चाहते है उनके लिए सरकार द्वारा कुछ पात्रताएं निर्धारित की गयी है जिनको पूरा करने पर ही उनको ड्राइविंग लाइसेंस दिया जायेगा। अगर कोई भी व्यक्ति ड्राइविंग लाइसेंस के बिना वाहन का प्रयोग

नेपाल में विमान हादसा, 68 की मौत:लैंडिंग से 10 सेकेंड पहले पहाड़ी से टकराया, आग लगी;

नेपाल में विमान हादसा, 68 की मौत:लैंडिंग से 10 सेकेंड पहले पहाड़ी से टकराया, आग लगी नेपाल के पोखरा में रविवार सुबह एक यात्री विमान दुर्घटनागस्त हो गया है। 72 सीटों वाले इस विमान से 40 शव बरामद हुए हैं। सेना के एक प्रवक्ता ने बताया कि नेपाल में 30 सालों से अधिक समय के बाद इतना भीषण हादसा हुआ है। कृष्णा भंडारी ने समाचार एजेंसी रायटर को बताया कि बचाव दल मौके पर मौजूद है और भी शव मिलने की उम्मीद है।  विमान में सवार थे इन देशों के नागरिक बता दें कि नेपाल के पोखरा हवाई अड्डे पर हादसे का शिकार हुए विमान में 53 नेपाली नागरिक, 5 भारतीय, 4 रूसी, एक आयरिश, 2 कोरियाई, एक अर्जेंटीना और एक फ्रांसीसी नागरिक सवार थे। विमान ने रविवार सुबह भरी थी उड़ान येती एयरलाइंस के एटीआर 72 विमान ने रविवार सुबह काठमांडू से पोखरा के लिए उड़ान भरी थी, लेकिन विमान कास्की जिले के पोखरा में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। दुर्घटना के बाद बचाव कार्य जारी है। इसी कारण से एयरपोर्ट को फिलहाल बंद कर दिया गया। हादसे के वक्त येती एयरलाइंस के इस प्लेन में 68 यात्री और चार क्रू सदस्य सवार थे। विमान में सवार थे 72 लोग एयरलाइन के प

सेना दिवस: 15 जनवरी 1949, ये तारीख़ भारतीय सेना के लिए क्यों है अहम

  भारत में हर साल15 जनवरी को सेना दिवस मनाया जाता है. इस साल भारत अपना 75वां सेना दिवस मना रहा है. भारत में इस दिन जश्न मनाने की खास वजह है. ये दिन भारत के इतिहास की सबसे महत्वपूर्ण घटनाओं में से एक की याद दिलाता है. 15 जनवरी, 1949 को करीब 200 साल के ब्रिटिश शासन के बाद पहली बार किसी भारतीय को भारतीय सेना की बागडोर सौंपी गई थी. इस दिन भारतीय सैनिकों की उपलब्धियों, देश सेवा, अप्रतिम योगदान और त्याग को सम्मानित किया जाता है. सेना दिवस मनाने की वजह 15 जनवरी, 1949 को कमांडर-इन-चीफ़ का पद पहली बार ब्रिटिश सैन्य अधिकारी से भारतीय सैन्य अधिकारी को मिला था. कमांडर-इन-चीफ़ तीन सेनाओं के प्रमुख को कहा जाता है इस समय भारत में कमांडर-इन-चीफ़ भारत के राष्ट्रपति हैं जो तीनों सेनाओं के प्रमुख हैं. तब फील्ड मार्शल केएम करियप्पा ने जनरल सर फ्रांसिस बुचर से भारतीय सेना के पहले भारतीय कमांडर-इन-चीफ़ के तौर पर पदभार ग्रहण किया था. फ्रांसिस बुचर भारतीय सेना में कमांडर-इन-चीफ़ का पद धारण करने वाले अंतिम ब्रिटिश व्यक्ति थे. फील्ड मार्शल केएम करियप्पा उस समय लेफ्टिनेंट जनरल थे. उस समय करियप्पा की उम

जोशीमठ के बाद कर्णप्रयाग के मकानों में भी दरारें, प्रशासन ने लोगों को घर खाली करने का नोटिस दिया

  कर्णप्रयाग में आठ घरों की हालत ख़तरनाक बनी हुई है. जिसे देखते हुए इन घरों में रहने वाले आठ परिवारों को इसे ख़ाली कराने का नोटिस दिया गया है. कर्ण प्रयाग के बहुगुणा नगर के रहने वाले हरेंद्र बिष्ट ने बताया कि उन्हें पटवारी की तरफ़ से घर ख़ाली करने के लिए नोटिस दिया गया है. बहुगुणा नगर में हरेंद्र बिष्ट का 6 कमरों का घर है. घर में उनके साथ पत्नी प्रियंका और ढाई साल का बेटा शिवेन रहते हैं. हरेंद्र बिष्ट ने बताया कि उनके सभी कमरों में दरारे आई हैं. दरारें इतना चौड़ी हैं कि एक कमरे से दूसरे कमरे में देखा जा सकता है. भरे मन से बात करते हुए हरेंद्र कहते हैं कि अपना सब कुछ छोड़कर, वो भी छोटे बच्चे के साथ, कहीं और जाना बेहद मुश्किल है. दरारें देख कर डर लगता है" हरेंद्र बिष्ट का कहना है कि जिस तरह से सरकार ने जोशीमठ में शिफ़्टिंग के लिए रक़म दी है, उसी तरह हमारी व्यवस्था करें, तो हमें भी आसानी होगी. हरेंद्र कहते हैं कि साल 2012 में मंडी समिति के भवन निर्माण के दौरान जेसीबी मशीनों से यहाँ खुदाई की गई थी. उस वक़्त के बाद से ही मकानों में लगातार दरारें आनी शुरू हुईं. कर्णप्रयाग के बहुगुणा